जमीन घोटाला मामला: कम नहीं हो रही पूर्व सीएम हेमंत सोरेन की मुश्किलें, ED ने 5 दिनों के लिए बढ़ाई रिमांड

बुधवार को रांची की पीएमएलए कोर्ट में हेमंत सोरेन को पेश किया गया. जहां कोर्ट ने हेमंत सोरेन की रिमांड को पांच दिनों के लिए बढ़ा दिया. जमीन घोटाला मामले में ईडी को पूर्व सीएम के खिलाफ यह रिमांड मिली है.

author-image
सौम्या सिन्हा
एडिट
New Update
पूर्व सीएम हेमंत सोरेन

जमीन घोटाला मामला: कम नहीं हो रही पूर्व सीएम हेमंत सोरेन की मुश्किलें

झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन जमीन घोटाला मामले में ईडी की गिरफ्त में है. बुधवार को ईडी की भारी सुरक्षा में पीएमएलए कोर्ट में हेमंत सोरेन को पेश किया गया, जहां कोर्ट ने पूर्व सीएम की रिमांड को पांच दिनों के लिए बढ़ा दिया. ईडी के विशेष जज दिनेश राय ने हेमंत सोरेन को एक बार फिर से 5 दिन की ईडी रिमांड पर भेज दिया है. 

गिरफ्तारी के बाद 5 दिनों के रिमांड अवधि के पूरे होने पर बुधवार को पूर्व सीएम हेमंत सोरेन को स्पेशल कोर्ट में पेश किया था. कोर्ट में ईडी ने 7 दिन की रिमांड की मांग की थी, लेकिन कोर्ट ने मामले पर सुनवाई करते हुए 5 दिनों की रिमांड अवधि ईडी को दी है. इन पांच दिनों तक ईडी पूर्व सीएम से जमीन घोटाला मामले में पूछताछ करेगी. आज पूर्व सीएम के कोर्ट में पहुंचने पर कोर्ट परिसर में हेमंत सोरेन के नाम के नारे लग रहे थे. हेमंत सोरेन के समर्थकों से कोर्ट परिसर खचाखच भर गया था. भीड़ को देखते हुए सीआरपीएफ जवानों को बुलाकर पूर्व सीएम को घेराबंद कर कोर्ट रूम में पहुंचाया गया. 

हेमंत सोरेन पर चल रहे जमीन घोटाला का यह मामला बीते साल से ही शुरू हुआ और उनपर एक साय की तरह चिपक गया है. पहले तो ईडी ने पूर्व सीएम सोरेन को एक के बाद एक कई समन भेजें और उसके बाद 31 जनवरी की रात पूर्व सीएम को गिरफ्तार कर लिया गया. अपनी गिरफ्तारी के पहले पूर्व सीएम ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था.

हेमंत सोरेन के इस्तीफे के बाद चंपई सोरेन को झारखंड के नए मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ दिलाई गई थी. चंपई सोरेन के मुख्यमंत्री बनने के बाद 5 फरवरी को विधानसभा में फ्लोर टेस्ट भी हुआ था, जिसमें पूर्व सीएम हेमंत सोरेन भी शामिल हुए थे. फ्लोर टेस्ट में चंपई सोरेन अपना बहुमत साबित करने में सफल हुए थे. 

hemant soren ED ranchi ED Land scam case