BJP प्रत्याशी रामकृपाल यादव के काफिले पर हमले के बाद गांव में तनाव, नतीजों से पहले पुलिस छावनी में तब्दील हुआ गांव

शनिवार की देर शाम पटना के पाटलिपुत्र लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी रामकृपाल यादव के काफिले पर फायरिंग की गई. घटना के बाद तिनेरी गांव में पुलिस ने छावनी डाल दी है, पूरा इलाका फिलहाल संवेदनशील बना हुआ है.

New Update
रामकृपाल यादव के काफिले पर हमला

रामकृपाल यादव के काफिले पर हमला

शनिवार की देर शाम पटना के पाटलिपुत्र लोकसभा सीट(Patliputra Lok Sabha seat) से भाजपा प्रत्याशी रामकृपाल यादव के काफिले पर फायरिंग की गई. 1 जून की शाम फायरिंग की यह घटना मसौढ़ी से लौटने के दौरान भाजपा प्रत्याशी पर हुई. इस हमले में रामकृपाल यादव तो बाल-बाल बच गए, लेकिन उनके साथ मौजूद एक समर्थक को चोट आई. 

Advertisment

भाजपा प्रत्याशी रामकृपाल यादव के काफिले पर हुआ यह हमला अब संवेदनशील हो रहा है. दरअसल हमले के बाद पटना में पुलिस सख्ती बढ़ गई है. घटना के बाद तिनेरी गांव में पुलिस ने छावनी डाल दी है, पूरा इलाका फिलहाल संवेदनशील बना हुआ है. मंगलवार को लोकसभा चुनाव का रिजल्ट भी आना है. इस दौरान किसी भी अप्रिय घटना ना हो इसलिएर गांव में पुलिस बल की तैनाती की गई है. गांव के बाहर चेक पोस्ट बनाकर वाहनों की भी जांच की जा रही है.

मालूम हो कि शनिवार को सातवें चरण में बिहार की 8 सीटों पर वोटिंग हो रही थी, जिस दौरान पटना के भी दो सीट पर पाटलिपुत्र और पटना साहिब में वोटिंग हुई. वोटिंग के दौरान राजद विधायक तिनेरी गांव की बूथ पर पहुंचे थे, इस दौरान विधायक पर बोगस वोटिंग का आरोप लगाया गया और विधायक के खिलाफ नारेबाजी की गई. इसके बाद राजद समर्थकों ने विरोध कर रहे लोगों के साथ मारपीट की और मुखिया पति को जख्मी कर दिया. इस पूरे घटना की जानकारी मिलने के बाद देर शाम रामकृपाल यादव तिनेरी गांव पहुंचे और पीड़ित से मुलाकात की. मुलाकात के बाद भाजपा प्रत्याशी जमालपुर गांव जा रहे थे जिस दौरान गोपालपुर मठिया गांव के पास उनके काफिले पर फायरिंग की गई.

मैं हिंसा की राजनीति नहीं करता - रामकृपाल यादव

Advertisment

पुलिस ने पूरी घटना में फायरिंग की पुष्टि नहीं की है. इधर भाजपा प्रत्याशी की ओर से नौ लोगों पर प्राथमिक दर्ज कराई गई है, जिसमें पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया है. तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. वहीं राजद विधायक की ओर से भी 12 लोगों पर केस दर्ज कराया गया है.

रविवार की सुबह भाजपा सांसद रामकृपाल यादव ने फायरिंग को लेकर कहा कि मैं हिंसा की राजनीति नहीं करता. 40 साल में यह कोई नहीं कह सकता कि मैंने किसी को पत्थर मारा हो. राजद विधायक रेखा देवी पर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि वह बूथ के अंदर किस अधिकार से गई थी. रेखा देवी की तरफ से भी केस दर्ज हुआ है, यह तो चोरी और सीनाजोरी का मामला है. मुझ पर फायरिंग करने की कोशिश की गई, मेरे समर्थकों के साथ मारपीट की गई, पुलिस इस पूरे मामले की जांच कर कार्रवाई करें.

घटना के बारे में आगे बताते हुए रामकृपाल यादव ने कहा कि शनिवार को बूथ पर अवैध तरीके से एक महिला विधायक की घुसने की सूचना मिली थी. जिसका निरीक्षण कर में लौट रहा था, इसी दौरान तिनेरी गांव में समर्थकों से मिलने गया जहां पिंजड़ी गांव के बाहरी इलाके में 20 से 25 लोगों ने घेरकर हमला कर दिया.

बता दें कि रामकृपाल यादव पाटलिपुत्र लोकसभा सीट से भाजपा के उम्मीदवार ने जिनके सामने लालू यादव की बेटी मीसा भारती तीसरी बार चुनावी मैदान में खड़ी है.

Patliputra Lok Sabha seat BJP candidate Ramkripal Yadav Attack on Ramkripal Yadav Attack on Patliputra BJP candidate