क्या तेजस्वी यादव को 'जन विश्वास यात्रा' से मिलेगा जनता का विश्वास? लालू यादव ने कहा - बहुत काम किया है, आगे भी काम करेगा

पटना से मंगलवार की सुबह तेजस्वी यादव की "जन विश्वास यात्रा" मुजफ्फरपुर के लिए रवाना हो गई है. आज ही पूर्व डिप्टी सीएम सीतामढ़ी, सहरसा में जनसभा को संबोधित करेंगे.

New Update
तेजस्वी यादव की जन विश्वास यात्रा

तेजस्वी यादव की जन विश्वास यात्रा

बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और राजद नेता तेजस्वी यादव ने मंगलवार से अपने "जन विश्वास यात्रा" की शुरुआत की है. पटना से तेजस्वी यादव ने अपनी मां राबड़ी देवी और पिता लालू प्रसाद यादव का आशीर्वाद लेते हुए यात्रा की शुरुआत की है. यात्रा की शुरुआत करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि जनता हमारी मालिक है, हम उनके बीच जा रहे हैं. आज से जन विश्वास यात्रा शुरू हो रही है. हमने 17 महीने में जो काम किया है उसे जनता के बीच रखेंगे. नीतीश कुमार का ना कोई विजन है और ना ही गठबंधन बदलने का कोई कारण है. नीतीश कुमार जनमत को महत्व नहीं देते, जनता उन्हें इसका जवाब देगी.

Advertisment

जनता के प्यार और समर्थन से राजद एक बड़ी पार्टी - तेजस्वी यादव

तेजस्वी यादव ने आगे कहा कि पिछले दो चुनाव से जनता ने राजद को अपना प्यार और समर्थन दिया है. उनके प्यार और समर्थन से ही राजद एक बड़ी पार्टी बनी है. उम्मीद है आने वाले समय में भी राजद को जनता का समर्थन मिलना जारी रहेगा.

अपने बेटे की जन विश्वास यात्रा पर पूर्व मुख्यमंत्री और राजद सुप्रीमो लालू यादव ने कहा कि हमारा पूरा आशीर्वाद है. बहुत काम किया है, आगे भी काम करेगा. जनता से अपील है कि इसके मनोबल को बढ़ाएं.

Advertisment

मौके पर राबड़ी देवी ने भी कहा कि पिछली बार भी नीतीश कुमार ने पलटी मारी थी. तब वह खुद आए थे, हमने नहीं बुलाया था. नीतीश कुमार के जांच वाले फरमान पर भी राबड़ी देवी ने कहा कि जांच होने दीजिए. 25 साल से हमारे ऊपर जांच हो रही है, लेकिन कोई नई बात निकल नहीं पा रही है. 

तेजस्वी यादव लोकसभा चुनाव की तैयारी के तहत आज से जन विश्वास यात्रा पर निकल रहे हैं. 1 मार्च को तेजस्वी यादव की यात्रा समाप्त होगी.

बिहार के सभी जिलों में तेजस्वी यादव की 'जन विश्वास यात्रा'

20 फरवरी को पटना से सुबह राजद सुप्रीमो के बेटे मुजफ्फरपुर के लिए निकले हैं. मुजफ्फरपुर में सुबह 11:00 बजे तेजस्वी यादव जनसभा को संबोधित करेंगे. मंगलवार को ही सीतामढ़ी, सहरसा में तेजस्वी यादव जनसभा करेंगे, इसके अलावा पूर्व डिप्टी सीएम यहां रोड शो भी करेंगे. इसके बाद रात को मोतिहारी में तेजस्वी यादव रात्रि विश्राम करेंगे. अगले दिन 21 फरवरी को तेजस्वी यादव मोतिहारी, बेतिया और गोपालगंज का दौरा करेंगे और रात में सिवान में विश्राम करेंगे. 22 फरवरी को सिवान, छपरा और आरा में तेजस्वी यादव की जन विश्वास यात्रा पहुंचेगी. बक्सर में रात में ठहराव होगा. 23 फरवरी को जन विश्वास यात्रा बक्सर, रोहतास और औरंगाबाद पहुंचेगी और गया में रात्रि में ठहराव होगा. 24 फरवरी को पूर्व डिप्टी सीएम गया, नालंदा, नवादा और जहानाबाद में यात्रा करेंगे और रात में पटना में आएंगे.

25 फरवरी को तेजस्वी यादव वैशाली, समस्तीपुर, दरभंगा और मधुबनी में जन विश्वास यात्रा के साथ पहुंचेंगे और रात में सुपौल में रुकेंगे. अगले दिन 26 फरवरी को सुपौल से यात्रा की शुरुआत होगी और अररिया, पूर्णिया, मधेपुरा से गुजरेगी. 27 फरवरी को जन विश्वास यात्रा सहरसा से शुरू होकर खगड़िया, मुंगेर और बेगूसराय से हो कर पटना वापस आएगी. 28 फरवरी को ट्रेन के जरिए तेजस्वी यादव जन विश्वास यात्रा को लेकर कटिहार जाएंगे. 29 फरवरी को कटिहार से यात्रा भागलपुर, बांका और जमुई पहुंचेगी.

तेजस्वी यादव की यह यात्रा राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा की तरह ही होने वाली है. महागठबंधन सरकार जाने के बाद लोकसभा चुनाव में तेजस्वी यादव कांग्रेस के साथ मिलकर अपनी सत्ता बनाने की कोशिश करेंगी. चुनाव को देखते हुए पूर्व डिप्टी सीएम की इस यात्रा को अहम माना जा रहा है. यात्रा के दौरान तेजस्वी यादव अपने 17 महीने के कार्यकाल को जनता के सामने रखेंगे.

तेजस्वी यादव ने विधानसभा चुनाव 2020 से पहले 23 फरवरी 2020 को "बेरोजगारी हटाओ यात्रा" की थी. इस यात्रा के दौरान भी उन्होंने सभी जिलों का दौरा किया था. यात्रा का परिणाम यह निकला था कि राजद पार्टी की लोकप्रियता में इजाफा हुआ था. 2019 लोकसभा चुनाव में शून्य पर आउट होने वाले राजद को 2020 विधानसभा चुनाव में सबसे बड़े दल के रूप में पहचाना गया था. राजद को 79 सीटों पर विधानसभा चुनाव में जीत मिली थी. 

Bihar patna tejaswhiyadav janvishwasyatra