चुनाव से पहले दिल्ली में होगा जल संकट? जानिए किसने किया दावा

25 मई को चुनाव से पहले दिल्ली में जल संकट पैदा किया जा रहा है. आतिशी ने दावा किया कि "यमुना का न्यूनतम जल स्तर 674 फीट होता था लेकिन कल (21 मई) 671 फीट के भी नीचे आ गया है."

New Update
चुनाव से पहले दिल्ली में जल संकट

चुनाव से पहले दिल्ली में होगा जल संकट

लोकसभा चुनाव 2024 की सरगर्मियां बढ़ गयीं हैं. एक तरफ मौसम का पारा बढ़ा हुआ हैं. वहीं दूसरी तरफ पार्टियों के आरोप-प्रत्यारोप से सियासी पारा बढ़ा हुआ है. पीएम मोदी आज दिल्ली की जनता को साधने के लिए दिल्ली में जनसभा करने वाले हैं उससे पहले दिल्ली की AAP सरकार ने बीजेपी की हरियाणा सरकार पर यमुना का पानी रोकने का आरोप लगाया है.

Advertisment

AAP प्रवक्ता आतिशी मर्लेना (AAP Leader Atishi Marlena) ने प्रेस कांफ्रेंस में दावा किया है कि 25 मई को चुनाव से पहले दिल्ली में जल संकट पैदा किया जा रहा है. आतिशी ने कहा “यमुना का पानी हरियाणा सरकार द्वारा साज़िशन रोका जा रहा है. 11 मई से हर रोज़ यमुना जी का जल स्तर लगातार नीचे आ रहा है. 25 मई की वोटिंग से पहले बीजेपी दिल्ली में पानी की त्राहि-त्राहि मचाने की साज़िश रच रही है. मैं दिल्ली की जनता को सचेत करना चाहती हूँ. भाजपा के षडयंत्र में मत फंसो. मैं भाजपा से भी कहना चाहती हूँ. तुम दिल्ली की जनता को मूर्ख नहीं बना सकते, वे इस बार सभी 7 सीटें I.N.D.I.A. गठबंधन को देने जा रहे हैं.”

आतिशी ने दावा किया कि “यमुना का न्यूनतम जल स्तर 674 फीट होता था लेकिन कल (21 मई) 671 फीट के भी नीचे आ गया है.”

आतिशी ने आगे कहा “बीजेपी दिल्ली में सातों सीट हार रही है. इससे परेशान बीजेपी ने दिल्ली में AAP और अरविंद केजरीवाल के खिलाफ साज़िश रचना शुरू कर दिया. एक जांच में पता चला है कि हरियाणा सरकार दिल्ली में मिलने वाले यमुना के पानी को रोक रही है.”

Advertisment

सुप्रीम कोर्ट भी जायेंगे- आतिशी मर्लेना

आप नेता आतिशी ने कहा की इस समस्या से निपटने के लिए वे लोग हरियाणा सरकार से बात करेंगे. आतिशी ने आगे जनता से कहा कि “इस साज़िश से निपटने के लिए तैयारियाँ शुरू कर दी गयी हैं. दिल्ली जल बोर्ड को इसके लिए निर्देश दिए गये हैं. पानी के टैंकरों की संख्या बढ़ाने को कहा  गया है और बोरवेल के चलने का समय भी बढ़ा दिया गया है. हम इस मामले में हरियाणा सरकार से भी बात कर रहे हैं और ज़रूरत पड़ने पर सुप्रीम कोर्ट में भी याचिका दाखिल करेंगे.

आतिशी ने कहा जरुरत पड़ने AAP सरकार हरियाणा सरकार को पत्र लिखेंगे. अगर जरूरत पड़ी तो न्यायालय में अर्जी भी लगाएंगे. अगर हरियाणा सरकार को लिखे पत्र पर कोई कार्रवाई नहीं हुई तो जरूरत पड़ने पर हम सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे.

AAP Leader Atishi Marlena Delhi before elections Water Crisis in Delhi