JPSC Paper Leak: पेपर लीक को लेकर आयोग सख्त, अब इन अभ्यर्थियों पर होगी बड़ी कार्रवाई

JPSC Paper Leak: जेपीएससी आयोग ने 11 प्री परीक्षा के पेपर लीक मामले में सभी उपायुक्त से रिपोर्ट मांगी थी. आयोग को मिली रिपोर्ट के अनुसार सभी आरोप पूरी तरह से निराधार है.

New Update
JPSC का पेपर लीक नहीं

JPSC का पेपर लीक नहीं

झारखंड लोक सेवा आयोग(JPSC) ने रविवार को राज्य में सिविल सेवा के 342 पदों के लिए प्रारंभिक परीक्षा आयोजित की थी. इस परीक्षा के लिए राज्य में 24 जिलों में 834 केंद्र बनाए गए थे, जिसमें पहली पारी की परीक्षा के पेपर आउट होने का आरोप लगाते हुए अभ्यर्थियों ने बीते दो दिनों से जबरदस्त प्रदर्शन किया था. जेपीएससी परीक्षा में शामिल अभ्यर्थियों में आरोप लगाया कि धनबाद, जामताड़ा और चतरा में पेपर लीक हुआ था.

Advertisment

छात्रों की तरफ से लग रहे इस बड़े आरोप और राजनीतिक पार्टियों की तरफ से भी बढ़ रहे दबाव के बाद आयोग ने प्रश्न पत्र लीक मामले में सभी उपायुक्त से रिपोर्ट मांगी थी. आयोग को सौंपी गई रिपोर्ट के मुताबिक अभ्यर्थी जिस मुद्दे को लेकर केंद्रों पर हंगामा कर रहे थे, वह पूरी तरह से निराधार है. आयोग ने कहा कि किसी भी जिले के परीक्षा केंद्र से प्रश्न पत्र लीक नहीं हुआ है. वही प्रश्न पत्र और ओएमआर शीट के खुला मिलने को लेकर आयोग का कहना है कि इसे हर परीक्षा केंद्र पर सेंटर हेड, मजिस्ट्रेट और परीक्षार्थियों के सामने वीडियोग्राफी करते हुए खोला गया था. जेपीएससी आयोग ने कहा कि पेपर लीक का आरोप महज एक अफवाह है.

JPSC पेपर लीक की बात को आयोग ने बताया गलत

आयोग ने सभी आरोपी को नकारते हुए कहा कि सरकार के नए कानून के तहत सभी दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी, ताकि अफवाह फैलाने वाले को चिन्हित किया जा सके. इस तरह के आरोप लगने से जेपीएससी की छवि धूमिल हुई है.

बता दें कि रविवार को आयोजित परीक्षा में जामताड़ा जिले पर दो सेंटरों में जोरदार हंगामा हुआ था. जामताड़ा के सेंटर जेएसए इंटर कॉलेज और डिग्री कॉलेज से चार परीक्षार्थियों ने परीक्षा शुरू होने के पहले ही प्रश्न पत्र लेकर केंद्र से फरार हो गए थे जिनकी पहचान कर उनपर कार्रवाई की गई है. दो एफआईआर और दर्ज कराई गई है, जिसमें पहले में 50 अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है और दूसरे एफआईआर में 21 अभ्यर्थियों को नामजद बनाया गया है.

11वीं संयुक्त सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2023 पर अभ्यर्थियों ने आरोप लगाते हुए कहा था कि कई जगहों पर अभ्यर्थी जमीन पर बैठकर नकल कर रहे थे. ओएमआर शीट भरते हुए भी अभ्यर्थियों की वीडियो भी काफी वायरल हुई है. एक और वीडियो वायरल है जिसमें गार्डन में खुलेआम क्वेश्चन पेपर की फोटो ली जा रही है और आंसर शीट पर भरा जा रहा है. यह दोनों वीडियो जामताड़ा के ही बताए जा रहे थे, इन वीडियो की भी जामताड़ा डीसी जांच कर रहे हैं.

JPSC Paper Leak Jharkhand Public Service Commission JPSC 11 pre paper leak