अमित शाह पर बोलकर फंसे मुकेश सहनी, केंद्र ने हटाई वाई प्लस सुरक्षा

गृह मंत्री अमित शाह पर मुकेश सहनी ने आपत्तिजनक बयान दिया था, इसके बाद 12 घंटे के अंदर उन्हें अपनी सुरक्षा से हाथ धोना पड़ा. मंगलवार को केंद्र ने मुकेश सहनी की वाई प्लस सुरक्षा को वापस लिया है.

New Update
मुकेश सहनी की Y+ सुरक्षा हटी

मुकेश सहनी की Y+ सुरक्षा हटी

बिहार में महागठबंधन में राजद नेता तेजस्वी यादव ने वीआईपी पार्टी को शामिल किया और उसे अपने खाते से दो सीटों की जिम्मेदारी दी. वीआईपी जब से महागठबंधन में शामिल हुई है तब से विपक्षी पार्टी पर हमलावर नजर आती रही है. भाजपा पर हमलावर होते हुए वीआईपी प्रमुख मुकेश सहनी ने अमित शाह पर टिप्पणी की थी, उसके बाद अब उनकी सुरक्षा केंद्र सरकार ने हटा ली है. मंगलवार को केंद्र सरकार ने मुकेश सहनी की सुरक्षा में तैनात वाई प्लस सुरक्षा को वापस लिया है.

Advertisment

गृह मंत्री अमित शाह पर मुकेश सहनी ने आपत्तिजनक बयान दिया था, इसके बाद 12 घंटे के अंदर उन्हें अपनी सुरक्षा से हाथ धोना पड़ा. वीआईपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता देवी ज्योति ने इस बात की पुष्टि की. देवी ज्योति ने कहा कि मुकेश सहनी की सुरक्षा छीन कर क्या कर लेंगे? हमारे हिफाजत और सुरक्षा तो बिहार की गरीब जनता करती है. आपकी तानाशाही से हमारे नेता, हमारे समाज को कोई फर्क नहीं पड़ता. हम कल भी गरीबों के सम्मान के लिए खड़े थे और आगे भी रहेंगे. भाजपा-आरएसएस को गरीब मल्लाह के बेटे से डर लगता है. जब तक शरीर में जान है, तब तक गरीबों के लिए हम लड़ते रहेंगे.

दरअसल मुकेश सहनी ने अमित शाह पर मंडल कमिशन को लेकर बयान दिया था. झंझारपुर में अमित शाह ने मंडल कमीशन रोक के रखने का आरोप कांग्रेस पर लगाया था. जिस पर जवाब देते हुए मुकेश सहनी ने कहा था कि 10 साल से आपलोग ताली बजा रहे थे क्या? क्यों नहीं मंडल कमीशन को लागू कराया? मुकेश सहनी के इस बयान के बाद राजनितिक गलियारे में खलबली मच गई थी. जिसके बाद शाम तक मुकेश सहनी पर कार्रवाई हो गई. हालांकि अभी तक इस संबंध में गृह मंत्रालय की ओर से कोई बयान जारी नहीं किया गया है. 

फरवरी 2022 में मुकेश सहनी को वाई प्लस सुरक्षा दी गई थी, जिसमें केंद्रीय सुरक्षा बल के 26 जवान तैनात थे.

Mukesh Sahni on Amit Shah Mukesh Sahni on Mandal Commission Mukesh Sahni Y+ security