Bihar Politics: नरेंद्र नारायण को मिली विधानसभा उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी, निर्विरोध चुने गए उपाध्यक्ष

बिहार विधानसभा के उपाध्यक्ष के तौर पर नरेंद्र नारायण ने ज़िम्मेदारी संभाल ली है. 71 वर्षीय नरेंद्र नारायण ने इस पद के लिए सीएम नीतीश कुमार और दोनों डिप्टी सीएम को शुक्रिया किया है.

New Update
नरेंद्र नारायण बने विस उपाध्यक्ष

नरेंद्र नारायण बने विस उपाध्यक्ष

बिहार विधानसभा को नया और 19वां उपाध्यक्ष शुक्रवार को मिल गया है. नए उपाध्यक्ष के तौर पर जदयू के वरिष्ठ विधायक नरेंद्र नारायण यादव निर्विरोध चुने गए हैं. 

Advertisment

बुधवार को महेश्वर हजारी के त्यागपत्र के बाद गुरुवार को नरेंद्र नारायण ने विधानसभा के नए उपाध्यक्ष के लिए नामांकन भरा था. गुरुवार को सीएम नीतीश कुमार की मौजूदगी में नारायण ने उपाध्यक्ष के लिए नामांकन दाखिल किया था. नारायण के नामांकन के बाद विपक्ष की ओर से इस पद के लिए किसी भी उम्मीदवार ने नामांकन नहीं भरा. ऐसे में नरेंद्र नारायण का निर्विरोध उपाध्यक्ष चुनाव हुआ है.

नरेंद्र नारायण के उपाध्यक्ष बनने पर नीतीश कुमार ने दी बधाई

नरेंद्र नारायण के चुनाव के बाद उन्होंने सदन में इसके लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रति आभार व्यक्त किया. नए उपाध्यक्ष ने कहा कि नीतीश कुमार के नेतृत्व और मार्गदर्शन में आज यहां पहुंचे हैं. इसी के साथ नारायण ने डिप्टी सीएम विजय कुमार सिन्हा और सम्राट चौधरी का भी आभार जताया और विधानसभा के पूर्व उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी के प्रति भी आभार व्यक्त किया. 

Advertisment

उपाध्यक्ष चुने जाने के बाद नारायण ने एक पंक्ति सुनाते हुए कहा कि पंच ना किसी के दोस्त होता है और ना किसी का दुश्मन होता है. पंच के मुंह से जो वाणी निकलती है, वह खुदा के मुंह से निकली वाणी होती है. मैं इस आसन पर रहकर पक्ष और विपक्ष की बातों को सुनकर, दोनों के को साथ लेकर सदन की कार्रवाई को बढ़ाने का काम करूंगा. 

आगे नारायण ने संत कबीर की भी एक पंक्ति को सदन में सुनाया "ऐसी वाणी बोलिए, मन का आपा खोय औरन को शीतल करे आप हू शीतल होए". नारायण ने सदन की कार्रवाई में सार्थक बहस करने की बात कही, ताकि जनता की समस्या को उठाया जा सके और सरकार उसका निराकरण कर सके. 

मालूम हो कि 71 वर्षीय नरेंद्र नारायण मिथिला इलाके के कोसी प्रमंडल से आने वाले हैं. वह मधेपुरा के आलमनगर विधानसभा के जदयू विधायक है. नरेंद्र नारायण यादव ने बिहार सरकार में पंचायती राज में मंत्री का पदभार संभाला है. इसके साथ ही वह 2005 से 2015 तक विभिन्न विभागों में कैबिनेट मंत्री के तौर पर भी रहे हैं.

Nitish Kumar bihar vidhansabha Narendra Narayan Assembly Deputy Speaker